मौसम जानकारी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (3.1K+) Join Now
नरमा कपास ग्वार मुंग मोठ के किसान इस ग्रुप से जुड़े Join Now
hui
Rate this post

मॉनसून_अपडेट: मॉनसून 2022 का खेल हुआ खत्म, उत्तर भारत के कई इलाकों से वापिस हुआ मॉनसून:

4 महीनो का बरसाती दौर अब खत्म होने को चला है। मॉनसून 2022 ने वापसी की लाइन पकड़ ली है। आज मॉनसून ने सम्पूर्ण पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली औऱ जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, उत्तरप्रदेश औऱ राजस्थान के कई इलाकों से विदाई ले ली है।

मॉनसून की वापसी रेखा जम्मू, ऊना, चंडीगढ़, करनाल, बागपत, दिल्ली, अलवर, जोधपुर, बाड़मेर औऱ नलिया से गुजर रही है।

अगले 2 से 3 दिनों में मॉनसून सम्पूर्ण जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, सम्पूर्ण उत्तराखंड, सम्पूर्ण हरियाणा, सम्पूर्ण राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, बुंदेलखंड, अवध, पश्चिमी व उत्तरी मध्यप्रदेश औऱ गुजरात के कई अन्य इलाकों से वापसी करेगा।

बारिश की अपडेट:

उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में 4 अक्टूबर तक मॉसम लगभग साफ ही रहेगा। हालांकि दोपहर बाद कही 2 हल्की बारिश हो सकती है।

वही मैदानी इलाकों पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तरप्रदेश, राजस्थान में 4 अक्टूबर तक मॉसम साफ, चमकदार, आंषिक बादलवाही के साथ हल्का गर्म रहेगा। इस दौरान बारीश की उम्मीद नही है। लेकिन 4 से बारिश का दौर सम्भव है।

4 अक्टूबर तक सिर्फ तराई क्षेत्र व राजस्थान के मेवाड़ क्षेत्र में हल्की बारिश या बूंदाबांदी की गतिविधियां कही-2 देखी जा सकती है।

4 अक्टूबर तक उत्तर गुजरात व पुर्वी मध्यप्रदेश में भी मॉसम आंषिक बादलवाही के साथ साफ व हल्का गर्म बना रहेगा। दोपहर बाद छिटपुट जगह बूंदाबांदी की संभावना है।

वही कल से मालवा के पश्चिमी इलाकों और पूर्वी गुजरात व सौराष्ट्र दोपहर बाद हल्की बारिश या बूंदाबांदी की गतिविधियां 2 अक्टूबर तक देखी जाएगी। उसके बाद मॉसम साफ होने लगेगा।

वियतनाम से आज टकराया चक्रवाती तूफान “नोरु” वियतनाम, थाईलैंड, म्यांमार को पार करके 1 अक्टूबर को उत्तर बंगाल की खाड़ी में LPA के रूप में प्रवेश करेगा।

जो 3 अक्टूबर की सुबह अक्टूबर को ओड़िसा व बंगाल से टकराकर झारखंड, उत्तरप्रदेश की तरफ रुख करेगा।

इस आगामी LPA के कारण 3 से 8 अक्टूबर के बीच प० बंगाल, झारखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़, बिहार, पुर्वी मध्यप्रदेश, बुंदेलखंड, पूर्वांचल में कई जगह हल्की से मध्यम बरसात होगी। कुछ जगह भारी बारिश भी होगी।

वही 4 से 8 तारीख के दौरान विदर्भ, मालवा, पुर्वी गुजरात, पुर्वी राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड में भी हल्की से मध्यम बरसात की संभावना बन रही है।

अगर सिस्टम उत्तरप्रदेश के रास्ते उत्तराखंड गया तब हरियाणा, दिल्ली, चंडीगढ़, पंजाब, हिमाचल प्रदेश में भी इसका हल्का असर देखने को मिल सकता है। जिसके कारण इन राज्यो में बिखरी हुई हल्की से मध्यम बरसात होने की संभावना है।

औऱ अगर आगामी सिस्टम उत्तरप्रदेश के रास्ते हरियाणा औऱ फिर हिमाचल प्रदेश की तरफ गया, तब हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पंजाब औऱ हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश होना तय है।

वही पश्चिमी राजस्थान औऱ जम्मू कश्मीर में इसका प्रभाव नही पड़ेगा।

हालांकि अभी सिस्टम दूर है। इसलिए कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा। समय पर विस्तृत अपडेट दे दी जाएगी।

LPA का रुख जहां भी हो लेकिन उत्तरप्रदेश, हरियाणा, पंजाब, पुर्वी राजस्थान व मध्यप्रदेश के किसान बंधु पहले से ही सचेत रहे। फसलो की कटाई जारी है, अगर बारिश हुई तो नुकसान होगा। इसलिए समय पर अपने पुख्ता प्रबंध जरूर रखें।

सरसो का भाव 👈 क्लिक करें

नरमा का भाव 👈 क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आगे वाली पोस्ट देखे
29 सितम्बर सरसो का का भाव विभिन्न मंडियों का सरसो सलोनी का भावसलोनी कोटा 6725सलोनी अलवर…
error: Content is protected !!