December 7, 2022
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (3.1K+) Join Now
नरमा कपास ग्वार मुंग मोठ के किसान इस ग्रुप से जुड़े Join Now
hui

सरसो,गेहूं,खल,मुंग,बाजरा,चना उड़द,तुअर,मसूर,आज की तेजी मंदी रिपोर्ट

सरसो,गेहूं,खल,मुंग,बाजरा,चना उड़द,तुअर,मसूर,आज की तेजी मंदी रिपोर्ट

JAGRITI AGRO
23 AUG अनुसार तेजी मंदी रिपोर्ट

मसूर- अब भाव निचले स्तर पर मसूर के वर्तमान भाव पर अब रिस्क नहीं दिखाई दे रहा है , क्योंकि निकट में घरेलू फसल आने वाली नहीं है तथा कनाडा एवं ऑस्ट्रेलिया के माल आने में भी अभी समय लगेगा । हम मानते हैं कि स्टाकिस्टों की घबराहटपूर्ण बिकवाली आने एवं मुंदड़ा से मंदे भाव में आयातकों की बिकवाली आने से बाजार टूट कर इस समय 6800 रुपए प्रति क्विंटल बिल्टी में जरूर रह गया है जागृति एग्रो, लेकिन इन भावों में अब जोखिम नहीं लग रहा है । दाल व मलका एवं साबुत माल नीचे वाले भाव में दोपहर बाद ग्राहकी निकलने लगी , जिससे बाजार यहां से तेज लग रहा है ।

उड़द- केवल ग्राहकी की कमी से मंदा उड़द की नई फसल तैयार होने वाली है , उसकी दहशत में दाल मिलें माल कम खरीद रही है , जिसके चलते 2 दिन में 150 रुपए घटकर 8350 रुपए प्रति कुंटल उड़द नीचे में बन गई थी , उसके बाद बाजार फिर माल नहीं मिलने से 150/200 रुपए बढ़ने की संभावना बन गई है । इसका मुख्य कारण यह है जागृति एग्रो कि दाल मिलों में माल नहीं है तथा एमपी में लगातार बरसात होने से उड़द की फसल को भारी नुकसान हुआ है , जिसके चलते एसक्यू जल्दी 8600 रुपए तथा एफएक्यू 7600 रुपए जल्दी बन सकती है ।

मूंग- 200 रुपए ऊपर – नीचे चलेगी मूंग की नई फसल क्या आने में अभी 2 महीने का और समय लगेगा तथा खेतों में फसल खड़ी है तथा फली लगी है , इस समय मौसम के ऊपर उत्पादकता निर्भर करेगी । मूंग का आयात सरकार द्वारा बंद किया गया है तथा जिन देशों से आयात खुला हुआ है जागृति एग्रो , वहां से पड़ते नहीं लग रहे हैं , इन सारी परिस्थितियों को देखते हुए 6000/6600 रुपए के बीच व्यापार होता रहेगा तथा इसमें 200 रुपए ऊपर – नीचे भाव नई फसल आने तक चलते रहेंगे ।


23 AUG

तुवर मंदे भाव में माल नहीं तूवर का आयात पड़ता तंजानिया एवं सुडान से लग रहा है , लेकिन वहां की तुवर घरेलू मंडियों में पसंद नहीं की जाती है । यूपी , एमपी , नरेला की दाल मिले वहां की तुवर नहीं चलाती हैं , इन सारी परिस्थितियों को देखते हुए 7350 रुपए की लेमन तुवर के व्यापार में कोई जोखिम नहीं है जागृति एग्रो। घरेलू फसल आने में अभी 5 महीने से अधिक का समय लगेगा । रंगून में चालू महीने की लोडिंग के भाव बढ़ाकर बोले जा रहे हैं , जिससे बाजार तेज लग रहा है ।

काबली चना- थोड़ा ठहर कर फिर बढ़ेगा काबुली चने के भाव सूडान मैक्सिको सहित सभी उत्पादक देशों में ऊंचे चल रहे हैं । इस पर कनाडा , ऑस्ट्रेलिया में भी इसका पड़ते में माल नहीं मिल रहे हैं , जिसके चलते भारतीय बाजारों से मोटे काबली चने का काफी मात्रा में निर्यात हो चुका है । यही कारण है कि मेक्सिको क्वालिटी के भाव 105/108 रुपए प्रति किलो हो गए हैं जागृति एग्रो तथा छने हुए माल 111/113 रुपए प्रति किलो तक बोलने लगे हैं । नई फसल निकट में आने वाली नहीं है । मिडियम माल के भाव 78/80 रुपए के बीच महाराष्ट्र के बिक रहे हैं । अत : वर्तमान भाव में कोई रिस्क नहीं दिखाई दे रहा है ।

गेहूं- ज्यादा घटने की गुंजाइश नहीं सरकार द्वारा पिछले दिनों आयात शुल्क घटाए जाने की बात कही गई थी , लेकिन दूसरी ओर यह भी बात सामने आई है कि सरकार गेहूं का आयात नहीं करेगी । गेहूं का भंडारण , सरकार के मुताबिक प्रचुर मात्रा में देश में पड़ा हुआ है , जिससे कोई कमी नहीं रहेगी जागृति एग्रो । इस स्थिति में घरेलू मंडियों से खपत बढ़ेगी जिससे जड़ में मंदा नहीं है । लॉरेंस रोड पर 2500 रुपए प्रति क्विंटल के आसपास बनते ही गेहूं के भाव फिर बढ़ जाएंगे तथा वर्तमान भाव में व्यापार करते रहना चाहिए ।

ग्वार गम : घटने के आसर औद्योगिक मांग निकलने तथा पर बिकवाली कमजोर होने से ग्वार गम के भाव 8700/8800 रुपए प्रति कुंटल पर आज ठहरे हुए थे । जोधपुर मंडी में ग्वार की कीमतों में भी बिकवाली कमजोर होने से टिका रहा । हालांकि सटोरिया लिवाली बिकवाली के चलते ग्वार गम वायदा सितम्बर अगस्त डिलीवरी में तेजी का रूख बना रहा । हाल ही में आई भारी गिरावट को देखते हुए इसमें गिरावट की संभावना है ।

बाजरा- अब और तेजी नहीं पिछले सीजन में बाजरे का उत्पादन कम होने से शॉर्टेज की स्थिति जरूर बनी हुई है , लेकिन नई फसल 20 दिन बाद आ जाएगी , जिससे अब तेजी का व्यापार नहीं करना चाहिए । फिलहाल 2240/2250 रुपए प्रति क्विंटल में मौली बरवाला पहुंच में व्यापार हो रहा है तथा यूपी से कुछ रैक के भी व्यापार हो रहे हैं , इन सब के बावजूद वर्तमान भाव में माल बेच कर एक बार निकल जाना चाहिए जागृति एग्रो । हाथरस लाइन में बाजरे का स्टाक ज्यादा नहीं है , भरतपुर लाइन में ऊंचे भाव है , क्योंकि वहां आवक टूट गई है । मथुरा लाइन में भी माल मिलना बंद हो गया है । अत : कुछ दिन हीं ठहरा रहेगा ।

बिनौला खल : ठहराव की उम्मीद पशु आहार वालों की मांग निकलने तथा बिकवाली कमजोर होने से बिनौला खल के भाव 3600/3800 रूपये प्रति कुंटल पर टिके रहे । भटिंडा मंडी में इसके भाव 3750/3800 रूपये प्रति कुंतल पर मजबूत रहे । सटोरिया लिवाली बढ़ने से एनसीडीईएक्स में तेजी का रूख बना रहा । पंजाब की मंडियों में बिनौला के भाव 3900/4000 रुपए प्रति कुंतल बोले गए । सप्लाई व मांग को देखते हुए इसमें ज्यादा घटबढ़ की संभावना नहीं है ।

व्यापार अपने विवेक अनुसार ही करें

अन्य जानकारी👈क्लिक करें

सरसो का भाव क्लिक करें
नरमा,कपास का भाव क्लिक करें
ग्वार,मुंग,मोठ,जीरा,इसबगोल,चना,गेहूं का भाव क्लिक करें

vijaypal chahar

विजयपाल चाहर

View all posts by vijaypal chahar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आगे वाली पोस्ट देखे
देखे आज का ताजा मंडी भाव Mandi rate मुंग,सरसो,चना, गेहूं, जो का भाव धान का भाव(…